8-12 फरवरी 2018, बैंगलोर इंटरनेशनल एक्जि़बिशन सेंटर, बैंगलोर, भारत

व्यापार अवसरों तक तत्काल पहुँच

 

फर्नीचर उत्पादन एवं लकड़ी की कारीगरी हेतु मशीनरी, तकनीक, औजार, फिटिंग्स, एक्सेसरीज़ तथा कच्चे माल का 9 वां अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला

 

कार्यक्रम के विषय में

इंडियावुड 2018 दुनिया के सबसे बड़े लकड़ी की कारीगरी के द्वैवार्षिक मेलों में से एक है, जहां फर्नीचर निर्माण, लकड़ी कारीगरी की मशीनें, औजार, फिटिंग्स, एक्सेसरीज़, कच्चा माल तथा लकड़ी कारीगरी से सम्बन्धित उत्पाद एक साथ आकर अंतरराष्ट्रीय स्तर की गुणवत्ता प्रदर्शनी में हिस्सा लेते हैं।

 

2018 में इस कार्यक्रम में 50,808 लकड़ी के पेशेवर कारीगरों ने हिस्सा लिया था, जिन्होंने नेटवर्क बनाया, अपनी उत्पाद आवश्यकताओं को साझा किया और लाखों के व्यापार अवसर उत्पन्न किए।

 

2016 में, इंडियावुड का 9वां संस्करण बैंगलोर इंटरनेशनल एक्जि़बिशन सेंटर (बीआईईसी) पर मार्? 8 ls 12 तक आयोजित किया जाएगा। पिछले संस्करणों की सफलता देखते हुए, 40 देशों की 650 से अधिक प्रमुख वैश्विक कम्पनियां आने की अपेक्षा की जा रही है, जो अपनी नवीनतम तकनीकों, नई प्रक्रियाओं तथा उत्पादों का प्रदर्शन दुनियाभर से आए 40,000 उपस्थितों के सामने करेंगी।

 

इंडियावुड 2016 में 53,000 वर्गमीटर से अधिक क्षेत्र में लकड़ी कारीगरी के समाधान, मशीनरी, सामग्री और घटक प्रदर्शित किए जाएंगे। प्रदर्शकों को मशीनरी तथा नॉन-मशीनरी श्रेणियों में विभाजित किया जाएगा और इनके लिए अलग-अलग हॉल होंगे।

क्षेत्र के फर्नीचर निर्माता, लकड़ी आधारित हस्तकला निर्माता, आरा मिल, हस्तकला कारीगर, लकड़ी के पेशेवर कारीगर, आर्किटेक्ट्स और इंटीरियर डेकोरेटर्स आदि के लिए इंडियावुड सबसे बड़ा सोर्सिंग मंच है।

पिछले एक दशक में पीडीए व्यापार मेला और EUMABOIS ने प्रदर्शकों और आगंतुकों के साथ मिलकर भारतीय लकड़ी कारीगरी उद्योग को तेज़ी से बढ़ावा दिया है। इंडियावुड लकड़ी कारीगरी उद्योग के साथ एक लाभकारी भागीदारी की अपनी परम्परा जारी रखेंगे, जहां मांग और समाधान एक दूसरे की पूर्ति करते हैं।

हम इंडियावुड 2016 में आपका स्वागत करने के लिए आतुर हैं!

2018 पूर्वावलोकन

  40 देशों के 850 से अधिक प्रदर्शक

  60,000 से अधिक पेशेवर लकड़ी कारीगर

  12 से अधिक नेशनल पैविलियन्स

  प्रदर्शनी के लिए 53,000 वर्ग से अधिक जगह

 

मार्केट परिदृश्य

भारतीय फर्नीचर उद्योग को रु. 1,20,000 करोड़ (20 अरब यूएस डॉलर) पर आंका गया है और इसमें संगठित क्षेत्र के 3,00,000 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। यद्यपि लकड़ी का घरेलू फर्नीचर इसका सबसे बड़ा हिस्सा है, लेकिन मॉड्यूलर किचन क्षेत्र में सबसे तेज़ वृद्धि देखी गई है। यह उद्योग 30% की चक्रवृद्धि वार्षिक दर पर वृद्धि कर रहा है।

भारत के लकड़ी कारीगरी उद्योग का एक नाममात्र हिस्सा ही संगठित है, लेकिन मांग और आपूर्ति में बड़े अंतर के कारण विदेशी कंपनियां अधिकाधिक संख्या में भारत की ओर आकर्षित हो रही हैं; और ई-रिटेलिंग का बढ़ता चलन भी उन्हें व्यापार के असीम अवसर दे रहा है।

भारत सरकार की 'मेक इन इंडिया' पहल का लक्ष्य है भारत में गुणवत्ता का स्तर बढ़ाना और यहां बड़ी मात्रा में अंतरराष्ट्रीय पूंजीगत तथा तकनीकी निवेश को आकर्षित करना।

विश्व की सबसे तेज़ी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक के रूप में भारत ने अपनी पहचान स्थापित कर ली है। निवेश करने के सर्वाधिक उपयुक्त स्थानों में इसे पहले 3 स्थानों में गिना जा रहा है। विदेशी पूंजी निवेश की दृष्टि से नियामक वातावरण को निवेशकों के लिए सतत मैत्रीपूर्ण बनाया जा रहा है।

इस सकारात्मक और संभावनापूर्ण व्यापार-हितैषी वातावरण के साथ, इंडियावुड के प्रतिभागी इस शो द्वारा प्रस्तुत अपार अवसरों का भरपूर लाभ ले सकते हैं।

 

इंडियावुड 2016 के कुछ रोचक तथ्य

इसके 98% प्रतिभागी इंडियावुड 2016 में भी शामिल होंगे।

 

इंडियावुड 2016 में 53 देशों से 50,803 मेहमान उपस्थित हुए थे।

 

इंडियावुड 2016 में भारत के 35 राज्यों के 823 शहरों ने अपनी उपस्थिती दर्ज की थी।

 

9 देशों के पैविलियन और समूह प्रतिभागी - कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, इटली, मलेशिया, ताइवान, तुर्की, श्रीलंका तथा यूएसए

 

2016 के 97% प्रतिभागी कार्यक्रम की वाणिज्यिक सफलता और उसकी विशिष्टताओं से संतुष्ट थे

 

हमारे प्रदर्शक इंडियावुड के बारे में क्या कहते हैं?

 

पिडिलाइट... "आपकी लकड़ी कारीगरी प्रदर्शनियों ने इस उद्योग के साझेदारों को अपनी वस्तुएं प्रदर्शित कर सकने के लिए एक साझा मंच उपलब्ध कराया है। इन प्रदर्शनियों में शामिल होने से हमारे ब्राण्ड को मज़बूती मिली है, और हम इस उद्योग के सभी प्रतिभागियों के साथ संवाद स्थापित कर सके हैं। हम इन कार्यक्रमों के नियमित प्रतिभागी रहे हैं, जिससे हम अपने उत्पाद यहां प्रदर्शित सके और अपनी छवि मज़बूत बना सके हैं।"

बिएस्से... "इंडियावुड भारत में लकड़ी की कारीगरी का प्रीमियम शो है जो देशभर से इस उद्योग के हिस्सेदारों को आकर्षित करता है, और इस कारण यह हमारा ब्राण्ड प्रदर्शित और प्रमाणित करने के लिए सबसे उत्कृष्ट मंच है। वाकई, इसने हमारे ब्राण्ड को भारत में स्थापित करने और प्रचारित करने में बहुत बड़ी मदद की है।"

आल्टेनडॉर्फ... "1999 और बाद के दिल्ली और मुंबई के इंडियावुड शो समूचे उद्योग के लिए शिक्षाप्रद मंच साबित हुए हैं। उद्योग, प्रदर्शक एवं आगंतुक, सभी के प्रति इस प्रदर्शनी का योगदान अमूल्य है।"

वुडटेक कन्सल्टेंट्स... "इंडियावुड जैसी लाभप्रद प्रदर्शनियां भारत में लकड़ी कारीगरी मशीनरी उद्योग के विकास हेतु एक मंच उपलब्ध कराने में हमेशा ही एक प्रमुख भूमिका निभाती आई हैं। यह ब्राण्ड के प्रचार का भी एक प्रमुख साधन है।"

पूछताछ के लिए सम्पर्क करें:

श्री शिवकुमार वी

महाप्रबंधक-व्यापार मेला

मोबाइल :+91 90369 00075

ईमेल : shiva@pdatradefairs.com